29 दिसंबर 2010

अच्छा या बुरा

वर्ष का फलाफल अच्छा या बुरा 
शनि हो या मंगल अच्छा या बुरा !!
बिहू , पुथांडू , नवरेह , उगादी, पड़वा 
कैलेण्डर लो बदल , अच्छा या बुरा !! 
नववर्ष की शुभकामना, हैप्पी न्यू ईयर ,
असल या नक़ल , अच्छा या बुरा !! 
कर्म में लिप्त संसार का नियम 
सेवा का फल , अच्छा या बुरा !!

2 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी रचना पढ़ गीता का सार याद आ गया ...कर्म करो फल की इच्छा मत करो ...अच्छी अभिव्यक्ति

    उत्तर देंहटाएं
  2. ठीक लिखा है -
    हम सिर्फ कर्म कर सकते हैं -जीवन में जो होना है उसे कोई नहीं रोक सकता-
    नववर्ष पर शुभकामनाएं -

    उत्तर देंहटाएं

आपके समय के लिए धन्यवाद !!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...